वीवीपैट से नहीं हुआ वोटों का मिलान, दिल्ली से आई चुनाव आयोग की टीम।

0
10

लोकसभा चुनाव में देश के आठ मतदान केंद्रों में ईवीएम की कंट्रोल यूनिट के मतों और वीवीपैट की पर्ची का मिलान नहीं हो पाया है। चुनाव आयोग ने इसकी जांच शुरू कर दी है।देश के आठ मतदान केंद्रों में से सिरमौर जिले में श्री रेणुकाजी विधानसभा क्षेत्र के एक मतदान केंद्र में भी ऐसा मामला सामना आया है। यहां एक मत की मिस मैचिंग हो रही है। इसके मद्देनजर शुक्रवार को चुनाव आयोग (ईसी) की टीम दिल्ली से पीजी कॉलेज नाहन पहुंची। टीम ने संबंधित मतदान केंद्र की ईवीएम की दिन भर जांच की। इसकी वीडियोग्राफी भी की। शिमला से प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी देवेश कुमार भी नाहन पहुंचे। उपायुक्त डॉ. आरके परुथी भी मौके पर मौजूद रहे। अभी इस मामले की जांच चल रही है।चुनाव में पारदर्शिता को लेकर चुनाव आयोग कितना गंभीर है, इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि महज एक वोट का मिलान न होने पर भी दिल्ली से चुनाव आयोग के अधिकारियों की एक टीम नाहन कॉलेज पहुंची। ईवीएम मतगणना के बाद से नाहन पीजी कॉलेज में ही रखी गई हैं। दिल्ली से आई टीम में आयोग के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ ही ईवीएम के इंजीनियर भी शामिल थे। मशीन की जांच के लिए श्री रेणुका जी विधानसभा क्षेत्र के तहत संगड़ाह के एसडीएम, संबंधित मतदान केंद्र की पूरी पोलिंग पार्टी और विभिन्न राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों को बुलाया गया था। कॉलेज में दिन भर मशीन की जांच की गई। ईवीएम मशीन से जुड़े कंट्रोल पैनल के मतों का वीवीपैट की पर्ची से मिलान न होने पर चुनाव आयोग ने यह संज्ञान लिया है। हालांकि, अभी भी यह जांच का विषय है कि आखिर एक वोट की मिस मैचिंग क्यों हो रही है?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here