शिमला समेत कई इलाकाें में ओलावृष्टि से गेहूं, आम और सेब की फसल काे भारी नुकसान

0
10

30 अप्रैल और एक मई को मौसम के साफ रहने का अनुमान ! दाे मई को अनेक क्षेत्रों में फिर से हो सकता है बारिश का दौर शुरू.

हिमाचल में बारिश के साथ ओलावृष्टि हुई। राजधानी शिमला समेत कई इलाकाें में ओलावृष्टि होने से सेब, गेहूं, आम और मटर की फसल काे भारी नुकसान हुआ है। बारिश के साथ ही तापमान में भी गिरावट आने से मौसम ठंडा हो गया। अपर शिमला सहित मध्यम ऊंचाई के अधिकांश क्षेत्रों में भी ओलावृष्टि हुई। 

मैदानी क्षेत्रों हमीरपुर, बिलासपुर, ऊना व कांगड़ा में सुबह के समय रिमझिम बारिश हुई। राज्य के विभिन्न इलाकों में पिछले एक हफ्ते से बारिश व ओलावृष्टि हो रही है। मौसम के रुख से किसानों-बागवानों की परेशानी बढ़ गई है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने अगले 24 घंटों में राज्य के मैदानी व मध्यम ऊंचाई वाले इलाकों में अंधड़ व भारी ओलावृष्टि की चेतावनी दी है। 

10 जिलों में येलो अलर्ट जारी

मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने बताया कि 10 जिलों हमीरपुर, बिलासपुर, ऊना, मंडी, कांगड़ा, शिमला, सोलन, सिरमौर, कुल्लू और चंबा जिलों में अंधड़ व ओलावृष्टि को लेकर येलो अलर्ट जारी किया गया है। इस दौरान 30 से 40 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से तूफान चलने की आशंका है। उन्होंने कहा कि मैदानी भागों में 28 अप्रैल तथा पर्वतीय इलाकों में 29 अप्रैल तक मौसम खराब बना रहेगा। 30 अप्रैल व एक मई को मौसम के साफ रहने का अनुमान है, लेकिन दाे मई को अनेक क्षेत्रों में फिर से बारिश का दौर शुरू हो सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here