सुशांत सुसाइड केस: अब तक हुए ये 5 बड़े डेवलपमेंट, जिसने दिया नया मोड़

    0
    6

    सुशांत के पिता ने लगाए रिया चक्रवर्ती पर सनसनीखेज आरोप

    मंगलवार शाम को उस समय पूरा देश हैरान रह गया जब ये खबर सामने आई कि एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के पिता के के सिंह ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ FIR दर्ज करवाई है. FIR में सुशांत के पिता ने जो-जो आरोप लगाए हैं, उसके बाद ना सिर्फ इस केस के समीकरण बदल गए हैं बल्कि कार्रवाई की दिशा भी एकदम अलग हो गई है. सुशांत के पिता ने बताया है कि रिया चक्रवर्ती एक्टर को ब्लैकमेल किया करती थीं. उन्होंने सुशांत का मोबाइल फोन तक बदलवा दिया था. परिवार से दूर रखने का आरोप भी लगाया गया है. इस सब के अलावा रिया पर सुशांत के पैसे हड़पने की बात भी सामने आई है. FIR में बताया गया है कि रिया ने सुशांत के 15 करोड़ रुपये उनके अकाउंट से निकाल लिए थे. रिया के परिवार पर भी सुशांत पर मानसिक रूप से दवाब बनाने की बात कही गई है. पुलिस ने इस एंगल पर भी जांच करना शुरू कर दिया है.

    रिया चक्रवर्ती की अमित शाह से सीबीआई जांच की अपील

    अब इस समय जरूर खुद रिया चक्रवर्ती अलग ही मुसीबत में फंस गई हैं. उन्हीं पर कई तरह के आरोप भी लगा दिए गए हैं. लेकिन कुछ समय पहले रिया ने ही सोशल मीडिया पर सुशांत केस में सीबीआई जांच की मांग की थी. उन्होंने एक पोस्ट के जरिए देश के गृहमंत्री अमित शाह से अपील की थी कि वे इस केस में सीबीआई से जांच करवाएं. उन्होंने तब दावा किया था कि उन्हें इस बात का कोई अंदाजा नहीं था कि सुशांत ने ऐसा बड़ा कदम क्यों उठाया. रिया से पहले शेखर सुमन, कंगना रनौत जैसे सेलेब्स भी सीबीआई जांच की मांग कर चुके हैं. लेकिन रिया की अपील ने केस में अलग ही हलचल पैदा कर दी थी.

    एक ही मुद्दे पर संजय लीला भंसाली और आदित्य चोपड़ा के अलग-अलग बयान

    एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के मामले में उस समय तेजी आई थी जब मुंबई पुलिस ने YRF के हेड आदित्य चोपड़ा और फिल्म डायरेक्टर संजय लीला भंसाली से पूछताछ की थी. लेकिन हैरानी की बात ये रही कि दोनों ही शख्स ने एक ही मुद्दे पर एकदूसरे से जुदा बयान दर्ज करवाए. ये मामला था फिल्म बाजीरॉव मस्तानी को लेकर जिसमे ऐसा कहा जा रहा था कि सुशांत सिंह राजपूत को भी लेने की तैयारी थी. इसी सिलसिले में संजय लीला भंसाली ने कहा था कि YRF ने उन्हें सुशांत संग काम करने की इजाजत नहीं थी क्योंकि उनका कॉन्ट्रैक्ट चल रहा था. लेकिन वहीं जब आदित्य चोपड़ा से इस सिलसिले में पूछताछ की गई तो उन्होंने दावा कर दिया कि संजय लीला भंसाली ने उन्हें कभी अप्रोच ही नहीं किया. उन्होंने यहां तक कहा कि सुशांत को कभी भी दूसरे फिल्ममेकर संग काम करने से नहीं रोका गया.

    शेखर कपूर और उनकी फिल्म पानी को लेकर बड़ा विवाद

    सुशांत की मौत के बाद शेखर कपूर उन चुनिंदा सेलेब्स में शामिल थे जिन्होंने ये कहा था कि वे जानते थे कि सुशांत डिप्रेशन में थे और उन्हें इस बात का दुख था कि वे मुश्किल समय में उनके साथ नहीं थे. अब कहने को तो शेखर कपूर का ये बयान ही काफी बड़ा माना गया,लेकिन जब बाद में उनकी फिल्म पानी को लेकर कई खुलासे हुए तब पता चला कि इस फिल्म की वजह से भी काफी विवाद रहा था. शेखर कपूर ने बताया था कि सुशांत ने 11 महीने तक पानी के लिए काफी मेहनत की थी. लेकिन उस फिल्म की शूटिंग कभी शुरू ही नहीं हुई और बाद में प्रोजेक्ट कैंसिल हो गया. इस बात से सुशांत काफी दुखी हो गए थे. लेकिन वही इस बारे में आदित्य चोपड़ा से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि इस मामले का सुशांत से कोई लेना-देना नहीं था और बस शेखर कपूर और YRF के बीच कुछ मतभेद था.

    सुशांत केस में सुब्रमण्यम स्वामी ने नियुक्त किया वकील

    बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने सुशांत मामले में ना सिर्फ सीबीआई जांच की पैरवी की बल्कि उस मामले की ठीक तरीके से जांच के लिए अपनी तरफ से एक वकील भी नियुक्त कर दिया. सुशांत केस के लिए स्वामी ने इशकरण भंडारी को अपना वकील बनाया और उन से मामले से जुड़ी सभी जरूरी दस्तावेज को इकट्ठा करने के लिए कहा. स्वामी ने उस जांच के आधार पर पीएम नरेंद्र मोदी तक को चिट्ठी लिखी थी. ऐसे में वो इस केस में काफी अहम माना गया. इशकरण भंडारी ने कई इंटरव्यू में दावा किया कि मुंबई पुलिस ने सुशांत मामले में काफी जल्दबाजी दिखाई. उन्होंने कुछ ही घंटों में इसे एक सुसाइड का मामला बता दिया. इशकरण के मुताबिक पुलिस ने सुशांत का फ्लैट भी समय पर सील नहीं किया था. इसके अलावा स्वामी के कहने पर इशकरण भंडारी, कंगना रनौत की मदद को भी आगे आए थे जब उन्हें मुंबई पुलिस के पास अपना बयान दर्ज करवाना था.

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here