Sirmaur News : सभी विभागीय अधिकारी केन्द्र प्रयोजित योजनाओं का समयबद्ध निष्पादन सुनिश्चित करें-सुरेश कश्यप

    0
    1
    sirmaur-departmental -centrally-sponsored-tatkalsamachar
    All departmental officers should ensure timely execution of centrally sponsored schemes - Suresh Kashyap

    लोकसभा सांसद सुरेश कश्यप ने सिरमौर जिला के सभी अधिकारियों से आग्रह किया है कि केन्द्र सरकार द्वारा प्रायोजित सभी योजनाओं का समयबद्ध निष्पादन सुनिश्चित बनायें ताकि समय पर आम जन तक केन्द्रीय योजनाओं का लाभ पहुंच सके। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा प्रदेश सहित सिरमौर जिला में कई जन हितैषी एवं महत्वकांक्षी योजनायें चलाई जा रही हैं जिनके कार्यान्वयन से आम जन लाभान्वित हो रहा है।
    सांसद सुरेश कश्यप आज शनिवार को नाहन में केन्द्र प्रायोजित योजनाओं और कार्यों की प्रगति सम्बन्धी समीक्षा के लिए आहूत जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति (दिशा) की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।


    सुरेश कश्यप ने कहा कि प्रदेश सहित सिरमौर जिला में भारी बारिश के कारण भू-स्खलन, फलैश फल्ड तथा बादल फटने जैसी आपदा के कारण बहुत भारी नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा कि आपदा की इस घड़ी में जिला प्रशासन के साथ सभी विभागों ने प्रशंसनीय कार्य किया है। उन्होंने कहा कि आमजन को इस भारी बारिश के कारण हुए नुकसान का उचित मुआवजा मिले इस दिशा में प्रशासन लगातार प्रयासरत है।


    सांसद सुरेश कश्यप ने सिरमौर जिला में चल रही प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना (पीएमजीएसवाई) के कार्यों की समीक्षा करते हुए बताया कि सिरमौर जिला में पीएमजीएसवाई फेज-तीन के तहत करीब 164 करोड़ रुपये की नई परियोजनाओं को स्वीकृति https://www.tatkalsamachar.com/mandi-news-relief-flight/ मिली है जिनमें नाहन की 5, पांवटा साहिब की 4 और शिलाई क्षेत्र की 3 सड़कों सहित कुल 12 सडकें शामिल हैं। उन्होंने कहा कि पीएमजीएसवाई-बैच-दो में जिला में सड़कों के लिए 108.09 करोड़ रुपये स्वीकृत हुये थे जिन पर कार्य चल रहा है। उन्होंने लोक निर्माण विभाग से आग्रह किया कि सभी सड़क परियोजनाओं को समयबद्ध ढंग से पूरा किया जाये ताकि परियोजना खर्च में बढ़ौतरी न होने पाये और साथ ही आम जन को समय पर इनका लाभ मिल सके।


    उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय वृद्धावस्था पैंशन योजना के तहत जिला में 4522 लाभार्थियों को 4.25 करोड़ रुपये के पैंशन लाभ दिये जा रहे हैं।  इसके अलावा 1466 विधवा महिलाआंे को पैंशन लाभ देने पर 1.11 करोड़ रुपये तथा दिव्यांग पैंशन योजना के तहत कुल 48 लाभार्थियों को 4.94 लाख रुपये पैंशन लाभ दिये जा रहे हैं।
    लोकसभा सांसद ने बताया कि प्रधानमंत्री ग्राम आदर्श योजना के तहत सिरमौर जिला 14 गांवों को चयनित किया गया था और लगभग सभी गांव निर्धारित मानक पूरा करने की ओर अग्रसर हैं। इसी प्रकार वर्ष 2022-23 में जिला में 15 और गांवों को प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम के लिए चयनित किया गया है जिसमें संगड़ाह विकास खंड के 6, शिलाई खंड के चार, पांवटा के दो और त्रिलोरधार के दो गांव शमिल हैं।


    सुरेश कश्यप ने जिला में जल जीवन मिशन के तहत चल रही योजनाओं की समीक्षा करते हुए कहा कि इस मिशन के तहत जिला में बहुत ही शानदार कार्य हुआ है। उन्होंने बताया कि सिरमौर जिला में जल जीवन मिशन के तहत पेयजल उपलब्ध करवाने के लिए वर्ष 2022-23 में 104 करोड़ रुपये तथा वर्ष 2023-24 में 170 करोड़ रुपये व्यय किये तथा 1.19 लाख से अधिक घरों का स्वच्छ पेयजल उपब्धा करवाया गया।
    सुरेश कश्यप ने बताया कि प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत सिरमौर जिला में 10944 एलपीजी गैस कुनैक्शन निशुल्क प्रदान किये गए जिसमें नाहन में 2237, पच्छाद में 728, पांवटा में 2805, रेणुका जी में 2703 और शिलाई में 2471 शामिल हैं।
    उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत जिला में कुल 2318 लाभार्थियों को मकान उपलब्ध करवाने पर 29.89 करोड़ रुपये व्यय किये गए हैं। इसमें नाहन में 366, पच्छाद में 274, पांवटा में 804, राजगढ़ में 101, संगड़ाह में 277, शिलाई में 461 तथा त्रिलोरधार में 35 आवासहीन लोगों को आवास स्वीकृत किये गए हैं।  
    उन्होंने जिला में चल रही केन्द्र प्रायोजित राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना, प्रधानमंत्री कृषि विकास योजना, मनरेगा, दीन दयाल अंत्योदय योजना, स्वच्छ भारत मिशन, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, सांसद आदर्श ग्राम योजना, सर्व शिक्षा अभियान, मध्याहन भोजन योजना आदि केन्द्र प्रायोजित योजनाओं पर विस्तार से चर्चा की।


    उपायुक्त सिरमौर सुमित खिमटा ने लोकसभा सांसद को आश्वस्त किया कि जिला में कार्यान्वित की जारी सभी केन्द्र प्रायोजित योजनाओं का सही एवं सुचारू कार्यान्वयन सुनिश्चित बनाया जायेगा और योजना के समबद्ध पूरा करने के हर संभव प्रयास किये जायेंगे।
    उपायुक्त ने भारी बारिश से जिला में हुए नुकसान का ब्यौरा देते हुए बताया कि सिरमौर जिला में अभी तक करीब 381.64 करोड़ रुपये का नुकसान आंका गया है जिसमें लोक निर्माण विभाग को 160 करोड़, राष्ट्रीय उच्च मार्ग को 6.60 करोड़, जल शक्ति विभाग को 146 करोड़, स्वास्थ्य विभाग को चार करोड़ तथा विद्युत विभाग को करीब 10 करोड़़ रुपये का नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा कि जिला में राहत एवं पुनर्वास कार्यों पर विशेष ध्यान दिया गया है और सभी सम्बन्धित विभाग गंभीरतापूर्वक कार्य कर  रहे हैं।


    विधायक पांवटा सुख राम चौधरी, विधायक पच्छाद रीना कश्यप ने केन्द्र प्रायोजित विभिन्न योजनाओं विशेष कर निर्माण कार्यों को समयबद्ध ढंग से पूरा करने के लिए अधिकाकिरयों से आग्रह किया ताकि समय पर इन योजनाओं का लाभ आम जन को मिल सके।


    जिला ग्रामीण विकास अभिकरण के परियोजना निदेशक अभिषेक मित्तल ने बैठक का संचालन करते https://youtu.be/svAbl7iUfjs?si=7iodfEJ0GufY2IDL हुए विभिन्न केन्द्र प्रायोजित योजनाओं पर विभागवार जानकारी प्रदान की।
    गैर सरकारी सदस्यों में जिला परिषद अध्यक्ष सीमा कन्याल, खंड विकास समिति अध्यक्ष अनिता शर्मा, पांवटा साहिब खंड के अध्यक्ष हितेन्द्र कुमार, राजगढ़ खंड की अध्यक्ष सरोज शर्मा, शिलाई खंड की अध्यक्ष अनिता, बलदेव भंडारी, विनय गुप्ता, नारायण सिंह व अन्य सदस्यों ने भी अपने विचार रखे।  


    पुलिस अधीक्षक रमण कुमार मीणा, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. अजय पाठक, अधीक्षण अभियंता लोक निर्माण अरविंद कुमार शर्मा, अधीक्षण अभियंता जल शक्ति राजीव महाजन, उप निदेशक कृषि विभाग राजेन्द्र ठाकुर, उप निदेशक उच्च शिक्षा कर्मचंद धीमान, उप निदेश पशुपालन डा. नीरू शबनम, जिला कल्याण अधिकारी विवेक अरोड़ा, जिला कार्यक्रम अधिकारी सुनील शर्मा, के अलावा स्वास्थ्य, जल शक्ति, लोक निर्माण, ग्रामीण विकास, उद्योग आदि विभागों के अधिकारी भी उपस्थित रहे।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here