गोलीबारी: पाँच साल बाद उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के बीच.

0
5

उत्तर कोरिया और दक्षिण कोरिया के बीच असैन्य क्षेत्र में गोलीबारी हुई है. जहाँ गोलीबारी हुई है वो इलाक़ा इन दो देशों को बाँटता है.

दक्षिण कोरिया की फ़ौज का कहना है कि उत्तर कोरिया की ओर से सुबह सात बजकर 41 मिनट (दक्षिण कोरिया के समयानुसार) पर गोलीबारी की गई है, जो सीमावर्ती शहर चेरोवन में एक दक्षिण कोरियाई गार्ड पोस्ट पर आकर लगी.

दक्षिण कोरिया की तरफ़ किसी भी तरह की जान-माल की क्षति नहीं होने की रिपोर्ट है.

दक्षिण कोरियाई फ़ौज के बयान में कहा गया है कि “दक्षिण कोरिया ने जवाब में दो राउंड की गोलीबारी की है और मैन्युअल के मुताबिक़ चेतावनी दी है.”

यह अब तक स्पष्ट नहीं है कि गोलीबारी शुरू करने की वजह क्या रही. जॉइंट चीफ ऑफ स्टाफ ने कहा है कि वे उत्तर कोरिया से मिलिट्री हॉटलाइन के जरिए संपर्क करने की कोशिश कर रहे थे ताकि गोलीबारी की वजह पूछी जा सके.

पाँच साल में यह पहली बार है जब उत्तर कोरियाई फ़ौज ने सीधे दक्षिण कोरिया पर गोलीबारी की है.

1953 में कोरियाई युद्ध के बाद असैन्य क्षेत्र बनाया गया था. यह दोनों देशों के बीच बफ़र ज़ोन की तरह है.

पिछले दो सालों से दक्षिण कोरिया की सरकार भारी फ़ौजी घेराबंदी वाली सीमा को पीस ज़ोन में बदलने की कोशिश में लगा हुआ है.

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जेइ-इन ने सितंबर 2018 में प्योंगयांग में हुई वार्ता के दौरान सीमा पर सैन्य तनाव कम करने पर रजामंदी दिखाई थी.

क़रीब तीन हफ़्तों के बाद किम जोंग-उन के सार्वजनिक रूप से दिखने के एक दिन बाद यह गोलीबारी की घटना हुई है. उनकी इस ग़ैर-मौजूदगी की वजह से दुनिया भर की मीडिया में उनके स्वास्थ्य को लेकर अटकले लगाई गई थीं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here