26 जनवरी की परेड में बिहार की झांकी शामिल नहीं होने पर ये बोले नीतीश कुमार

0
14

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि 19 जनवरी को जल-जीवन-हरियाली अभियान तथा शराबबंदी-नशामुक्ति के पक्ष में और बाल विवाह एवं दहेज प्रथा के खिलाफ जब पूरे बिहार के लोग एक-दूसरे का हाथ पकड़कर अपनी प्रतिबद्धता प्रकट करेंगे तो देश ही नहीं पूरी दुनिया के लोग इससे प्रेरित होंगे। 

जल-जीवन-हरियाली अभियान को जो समझेगा वही इसे मानेगा। हम सब मिलकर इस अभियान को सफल बनायेंगे। कहा कि कुछ लोग इस पर बिना मतलब की चर्चा में लगे हैं कि 26 जनवरी को दिल्ली में जल-जीवन-हरियाली अभियान की झांकी नहीं दिखाई जाएगी। देश में कई अन्य काम किये जा रहे हैं, जिसे गणतंत्र दिवस की झांकी में दिखाया जायेगा। बिहार से संबंधित चीजों को भी पहले गणतंत्र दिवस की झांकी में दिखाया गया है। इस पर परेशान होने की जरूरत नहीं है।

मिशन मोड में करना होगा काम
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को जल-जीवन-हरियाली यात्रा के दौरान बेगूसराय के साहेबपुर कमाल में कहा कि हरियाली अभियान को मिशन के रूप में हमलोगों ने लिया है। इसके क्रियान्वयन को लेकर सभी को भागीदारी निभानी होगी। उन्होंने कहा कि जनसंख्या की बढ़ती दर को नियंत्रित करके हमलोग पर्यावरण संकट को भी कम कर सकेंगे। पर्यावरण प्रदूषण का कुप्रभाव कृषि पर भी पड़ा है। 

अधिकतर जिलों में भू-जल स्तर काफी नीचे चला गया है। यह भयावह स्थिति है। मुख्यमंत्री ने मेंथा, सोयाबीन, मशरूम आदि की खेती को किसानों के लिए फायदेमंद बताया। मुख्यमंत्री ने यात्रा के दौरान क्षेत्र में मत्स्यपालन पर भी चर्चा की और इसके विकास को लेकर आवश्यक कदम उठाये जाने पर बल दिया। साथ ही पंचायत भवन के समीप पंचायत सरकार भवन निर्माण की घोषणा की और तत्काल जिलाधिकारी को इसकी प्रक्रिया शुरू करने का निर्देश दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here