मुख्यमंत्री ने जोगिन्द्रनगर में 370 करोड़ रुपये की 39 विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण व शिलान्यास किए

    0
    4

    मंडी : मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज मंडी जिले के जोगिन्द्रनगर विधानसभा क्षेत्र के जोगिन्द्रनगर मेला मैदान में लगभग 370 करोड़ रुपये की 39 विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए।
    इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने ‘प्रगतिशील हिमाचलः स्थापना के 75 वर्ष’ कार्यक्रम के अन्तर्गत जोगिन्दरनगर में विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा राज्य के लोगों के प्रति आभार व्यक्त करने के लिए इन कार्यक्रमों आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि आज हिमाचल जिस बुलंदी पर है उसमें समाज के हर वर्ग के लोगों ने पूर्ण सहयोग प्रदान किया है। उन्होंने कहा कि 15 अप्रैल, 1948 राज्य के अस्तित्व के समय प्रदेश में केवल चार जिले और राज्य की जनसंख्या 11 लाख से अधिक थी। जबकि वर्तमान में राज्य की जनसंख्या 70 लाख से अधिक है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के गठन के समय राज्य का क्षेत्रफल 25,839 वर्ग किलोमीटर था जबकि आज राज्य का कुल क्षेत्रफल 55,673 वर्ग किलोमीटर है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में प्रदेश की साक्षरता दर 83 प्रतिशत से अधिक है जबकि प्रदेश के गठन के समय यह दर मात्र 4.8 प्रतिशत थी। उन्होंने कहा कि राज्य ने स्वास्थ्य, शिक्षा, बागवानी, पर्यटन और अन्य क्षेत्रों में अभूतपूर्व विकास किया है।
    जय राम ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार के कार्यकाल के पांच वर्ष पूर्ण होने वाले हैं। लेकिन दुर्भाग्यवश प्रदेश सरकार को कोरोना महामारी के संकट के कारण केवल तीन वर्ष ही कार्य करने का अवसर प्राप्त हुआ है। उन्होंने कहा कि प्रदेशवासियों के सहयोग से राज्य में कोरोना महामारी पर नियंत्रण पाने के साथ-साथ राज्य सरकार ने विकास की गति को थमने नहीं दिया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार को विकास के मामले में केंद्र सरकार का पूरा सहयोग मिल रहा है।
    मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का हिमाचल प्रदेश के प्रति विशेष स्नेह है और उनके नेतृत्व में राज्य को कई हजार करोड़ रुपये की परियोजनाएं मिली हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की उदारता के कारण केंद्रीय परियोजनाओं में 90ः10 अनुपात के वित्त पोषण को बहाल किया गया है।
    उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री अब तक सात बार राज्य का दौरा कर चुके हैं और एक माह के भीतर राज्य का तीन बार दौरा करेंगे। उन्होंने कहा कि यह प्रधानमंत्री का प्रदेशवासियों के प्रति अपार स्नेह को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि राज्य के विकास को गति प्रदान करने के लिए केंद्र ने 800 करोड़ रुपये की विशेष वित्तीय सहायता भी प्रदान की है और वर्तमान राज्य सरकार के चार वर्ष का पूर्ण होने के उपलक्ष्य में मंडी दौरे के दौरान राज्य के लिए 10,000 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं को समर्पित किया गया। उन्होंने कहा कि केन्द्र की भाजपा सरकार ने राज्य के लिए अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स), आई.आई.एम., आई.आई.आई.टी., केन्द्रीय विश्वविद्यालय, पी.जी.आई. सैटेलाइट सेंटर को मंजूरी प्रदान की है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा राज्य के लिए एक बल्क ड्रग फार्मा पार्क स्वीकृत किया गया है जो 50,000 करोड़ रुपये से अधिक के निवेश को आकर्षित करेगा और 30,000 से अधिक युवाओं को रोजगार प्रदान करेगा।
    जय राम ठाकुर ने कहा कि प्रदेश में बार-बार सत्ता परिवर्तन के ‘रिवाज़’ को बदलने के भाजपा के नारे से विपक्षी नेता बौखला गए हैं। उन्होंने कहा कि देश के अन्य राज्यों की तरह हिमाचल में भी जनता ने ‘मिशन रिपीट’ करने का मन बना लिया है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार सामाजिक सुरक्षा पेंशन प्रदान करने पर 1300 करोड़ रुपये व्यय कर रही है। जबकि पिछली सरकार ने इस पर मात्र 400 करोड़ रुपये की राशि व्यय की। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शगुन योजना, मुख्यमंत्री सहारा योजना, मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना, महिलाओं के लिए बस किराए में 50 प्रतिशत की छूट, 125 यूनिट तक निःशुल्क बिजली जैसी योजनाओं से प्रदेश के लोग लाभान्वित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि यह सब ऐसे नेतृत्व के कारण संभव हुआ है जो एक साधारण परिवार से सम्बन्ध रखते हैं और वह गरीबों और पिछड़े वर्गों की की विकासात्मक आवश्यकताओं से भली-भांति परिचित हैं। उन्होंने राज्य के लोगों से वर्तमान राज्य सरकार को अपना पूरा समर्थन देने का आग्रह किया ताकि सतत् विकास जारी रहे।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here