पीडीपी नेता का आरोप- महबूबा के 370 पर ‘भड़काऊ’ बयान ने कश्मीर को बनाया केंद्रशासित प्रदेश

0
20

पीडीपी के नेता मुजफ्फर हुसैन बेग ने आर्टिकल 370 पर महबूबा मुफ्ती के दिए भड़काऊ बयान की निंदा की और कहा कि उन्हें ऐसा नहीं कहना चाहिए थे। ऐसे बयानों ने जम्मू-कश्मीर को केंद्रशासित प्रदेश में बदल दिया।

हाइलाइट्स

  • पीडीपी नेता मुजफ्फर हुसैन बेग ने 370 पर बयान को लेकर महबूबा मुफ्ती पर साधा निशाना
  • बेग ने कहा, महबूबा के भड़काऊ बयानों की वजह से जम्मू-कश्मीर बना केंद्रशासित प्रदेश
  • पीडीपी नेता ने कहा- पीएम, गृह मंत्री को मजबूर करके कुछ भी हासिल नहीं किया जा सकता
    जम्मू-कश्मीर राज्य के पुनर्गठन और प्रदेश से आर्टिकल 370 के प्रावधानों को हटाए जाने के महीनों बाद पीडीपी के वरिष्ठ नेता मुजफ्फर हुसैन बेग ने महबूबा मुफ्ती के एक बयान को इसका जिम्मेदार ठहराया है। अपने बयान में मुफ्ती ने कहा था कि आर्टिकल 370 के साथ छेड़छाड़ किए जाने पर कश्मीर में कोई भी तिरंगा नहीं थामेगा।

“हमें ऐसे ‘भड़काऊ’ बयान नहीं देने चाहिए थे। इन स्टेटमेंट्स की वजह से ही जम्मू-कश्मीर राज्य को संघशासित प्रदेश बना दिया गया। अगर आपको जम्मू-कश्मीर के लोगों से संबंधित मुद्दों पर बात करनी है तो आपको सभ्य और गरिमापूर्ण तरीके से बात करनी होगी। प्रधानमंत्री, गृहमंत्री और एनएसए को मजबूर करके कुछ भी हासिल नहीं होने वाला है।”-मुजफ्फर हुसैन बेग, पीडीपी नेता
बेग ने कहा कि हमें इस तरह के बयान नहीं देने चाहिए थे। इन स्टेटमेंट्स की वजह से ही जम्मू-कश्मीर राज्य को संघशासित प्रदेश बना दिया गया। बेग ने कहा कि ऐसे बयानों ने हमारी मदद नहीं की। उन्होंने आगे कहा कि अगर आपको जम्मू-कश्मीर के लोगों से संबंधित मुद्दों पर बात करनी है तो आपको सभ्य और गरिमापूर्ण तरीके से बात करनी होगी। प्रधानमंत्री, गृहमंत्री और एनएसए को मजबूर करके कुछ भी हासिल नहीं होने वाला है।

कश्मीर में विदेशी प्रतिनिधिमंडल

बता दें कि गुरुवार को 15 विदेशी दूतों के प्रतिनिधिमंडल ने श्रीनगर में जम्मू-कश्मीर के राजनेताओं से मुलाकात की। इस प्रतिनिधिमंडल में यूएसए, अर्जेंटीना, साउथ कोरिया, उज्बेकिस्तान और बांग्लादेश के प्रतिनिधि शामिल हैं। प्रतिनिधिमंडल के सदस्य कश्मीर की सामान्य स्थिति को उजागर करने के लिए घाटी की यात्रा पर हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here