पप्पू यादव के बिगड़े बोले- योगी मेरे राज्य में होते तो सीने पर चढ़कर 32 हड्डियां तोड़ देता

0
15

समस्तीपुर. जन अधिकार पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव (Pappu Yadav) ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) पर तीखा हमला बोला है. उन्‍होंने कहा कि अगर योगी आदित्यनाथ और पप्पू यादव एक ही राज्य में होते तो मैं सीने पर चढ़कर उनकी 32 हड्डियां तोड़ देता. समस्तीपुर में आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि इस देश में जब जुल्म बढ़ता है तो वो रुई की तरह उड़ जाता है. पप्पू यादव ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को इस दौरान पागल तक का डाला.

समस्तीपुर में चल रहा है धरना
दरअसल, पप्पू यादव देर शाम समस्तीपुर के सरकारी बस पड़ाव में नागरिकता कानून एनआरसी के खिलाफ संविधान बचाओ संघर्ष समिति के बैनर तले शुरू हुए अनिश्चितकालीन सत्याग्रह को अपना समर्थन दे रहे थे. इस मौके पर पूर्व सांसद पप्पू यादव ने केंद्र सरकार सहित तमाम विपक्षी पार्टियों पर जमकर हमला किया. पूर्व सांसद पप्पू यादव यादव ने न्यूज़ 18 से बात करते हुए कहा कि लोकतंत्र में सत्याग्रह से बड़ा और आंदोलन क्या हो सकता है. पप्पू यादव ने कहा कि समस्तीपुर के जिलाधिकारी और प्रशासन द्वारा सत्याग्रह करने वाले लोगों को धमकी दी जा रही है साथ ही साथ ही उन्होंने कहा कहा कि आज जेएनयू जामिया जैसे मंदिरों पर हमला किया जा रहा है.

देश को तोड़ने की हो रही साजिश

पप्‍पू यादव ने कहा कि देश को तोड़ने की साजिश चल रही है और जो देश को बांटने की राह पर चल रहे हैं उसे देशभक्त का जा रहा है. पप्पू यादव ने तेजस्वी यादव सहित पूरे विपक्ष को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि उन्हें जन्मदिन की बधाई देने के लिए ट्वीट करने का वक्त होता है, लेकिन जब जेएनयू में हमले होते हैं उस पर ट्वीट करने का इनलोगों के पास वक्त नहीं होता है.

निशाने पर विपक्ष
पूर्व सांसद ने कहा कि 1 जनवरी के बाद इन विपक्षियों द्वारा एक भी ट्वीट नहीं किया गया है. पूरा देश डर के वातावरण में हो और विपक्ष घर में सोया हो व अपनी राजनीति में लगा हो यह मुल्क यह बर्दाश्त नहीं करेगा. पूर्व सांसद पप्पू यादव ने कहा कि इस वक्त उनकी पहली प्राथमिकता उत्तर प्रदेश को बचाना है, वहां के मंदिरों को बचाना है, वहां की बेटियों को बचाना है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here