देश के कई इलाकों में आज मौसम की सबसे अधिक ठंड, जानें कहां का क्या हाल

0
16

दिल्ली की ठंड सबसे लंबी शीतलहर के रेकॉर्ड को तोड़ चुकी है। इस बार लगातार 14 दिनों से शीतलहर जारी है। 1997 के दिसंबर महीने में लगातार 13 दिन की शीतलहर चली थी जबकि पूरे महीने में कुल 17 दिन शीतलहर का प्रकोप रहा था।

हाइलाइट्स

  • देश के कई इलाकों में सीजन का सबसे ज्यादा ठंड आज पड़ रही है
  • ऊपरी हिमालय क्षेत्रों में जोरदार बर्फबारी और तराई इलाकों में जबर्दस्त शीतलहर का प्रकोप है
  • दिल्ली में औसत तापमान 2.4 डिग्री सेल्सियस पर आ गिरा जबकि राजस्थान के फतेहपुर शेखावटी में पारा -4 डिग्री पहुंच गया
  • दिल्ली में इस बार लगातार 14 दिनों से शीतलहर जारी है

नई दिल्ली
दिल्ली ठंड का दशकों का रेकॉर्ड तोड़ रही है तो देश के अन्य हिस्सों में भी हाड़ कंपा देने वाली ठंड है। जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के पहाड़ी इलाके बर्फ की सफेद चादर से ढंक गए हैं। राजस्थान के फतेहपुर शेखावटी में तो पारा -4 डिग्री तक आ गिरा है। मौसम विभाग ने शुक्रवार को ही पूर्वानुमान में बताया था कि 2 जनवरी तक उत्तर भारत में ऐसी ही कड़कड़ाती ठंड होगी और यही देखने को मिल रहा है। कई इलाकों में बर्फ से घास ढक गई है, ताल-तलैये जम गए हैं। मध्य प्रदेश के हिल स्टेशन पंचमढ़ी में तापमान 1.2 डिग्री तक पहुंच गया है। स्वाभाविक है कि पिछले 100 सालों में इस वर्ष दूसरा सबसे ठंडा दिसंबर होने का अनुमान सही साबित हो रहा है।

इस महीने अब तक 8 कोल्ड डे और 7 सीवियर कोल्ड डे
भारतीय मौसम विभाग के अनुसार, कोल्ड डे तब होता है, जब अधिकतम तापमान सामान्य से कम से कम 4.5 डिग्री कम हो जाए। दूसरा सीवियर कोल्ड डे वह होता है। जब अधिकतम तापमान सामान्य से कम से कम 6.5 डिग्री सेल्सियस कम होता है। दिसंबर में अब तक 8 कोल्ड डे और 7 सीवियर कोल्ड डे हो चुके हैं।

दिल्ली में चिलचिलाती ठंड
देश की राजधानी दिल्ली में शनिवार को मौसम की सबसे ज्यादा ठंड पड़ रही है। शनिवार सुबह को दिल्ली का औसत पारा 2.4 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया। लोधी रोड (1.7), आया नगर (1.9) में तापमान और कम था। शुक्रवार को दिल्ली में न्यूनतम तापमान 4.2 डिग्री रेकॉर्ड किया गया था। दिल्ली-एनसीआर के कई इलाके कोहरे की चपेट मे हैं।

राजस्थान के सीकर में पारा -1 पर पहुंचा
राजस्थान में भी ठंड रेकॉर्ड तोड़ रही है। शनिवार को सीकर में पारा लुढ़ककर – 1 पर चला गया। जबर्दस्त शीत लहर के कारण शुक्रवार को भी पारे ने रेकॉर्ड तोड़ा था। जयपुर में पारा पांच साल बाद फिर 4 डिग्री तक गिर गया। जयपुर जिले के जोबनेर में -1 डिग्री दर्ज किया गया। फतेहपुर में तापमान शुक्रवार को -3, माउंट आबू में -1, चुरू में -.6 दर्ज किया गया। इन जिलों में सर्दी का आलम यह है कि सुबह छतों, खेतों और गाड़ियों में पाले की परत जमी दिखाई दे रही है।

उत्तर प्रदेश का हाल
देश के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में ठंड से 28 लोगों की जान जा चुकी है। प्रदेश के बुंदेलखंड इलाके में चार दिनों से लगातार शीतलहर चल रही है। पहाड़ों में लगातार हो रही बर्फबारी से यहां के लोगों का जीवन बुरी तरह से प्रभावित हो रहा है। शुक्रवार को वेस्ट यूपी के बुलंदशहर, बागपत, बिजनौर, हापुड़ जिलों में तापमान 3 डिग्री सेल्सियस तक दर्ज किया गया। वहीं मथुरा का तापमान 2 डिग्री सेल्सियस तक गिर गया। सूबे में मथुरा सबसे ठंडा जिला रहा। राजधानी लखनऊ में शुक्रवार को न्यूनतम तापमान 7.7 डिग्री सेल्सियस रहा। सीतापुर, अमेठी, आंबेडकर नगर, बहराइच, श्रावस्ती और बलरामपुर में न्यूनतम तापमान चार डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

उत्तर भारत में आज के न्यूनतम तापमान
उच्च हिमालयी इलाकों में जोरदार बर्फबारी और निचले इलाकों में तेज शीतलहर का गहरा असर पड़ोसी राज्यों पर पड़ रहा है। उत्तराखंड के केदरनाथ और बद्रीनाथ में चारों और बर्फ ही बर्फ ही दिख रहा है। नया घोषित केंद्रशासित प्रदेश लद्दाख के द्रास में आज का तापमान -20.6 पर आ गया, वहीं हिमाचल प्रदेश के किलोंग में पारा गिरकर -11.5 पर आ गया। राजस्थान में सीकर जिला औसतन -1 डिग्री के साथ सबसे ज्यादा ठंड के प्रकोप में है। यहां फतेहपुर शेखावटी में तो तापमान -4 डिग्री तक पहुंच गया। उधर, हरियाणा के हिसार में पारा 0.2 डिग्री, उत्तराखंड के पिथौरगढ़ में 0.5 डिग्री और पंजाब के भटिंड में 2.3 डिग्री दर्ज किया गया है।

टूट रहे रेकॉर्ड
दिल्ली की ठंड सबसे लंबी शीतलहर के रेकॉर्ड को तोड़ चुकी है। इस बार लगातार 14 दिनों से शीतलहर जारी है। 1997 के दिसंबर महीने में लगातार 13 दिन की शीतलहर चली थी जबकि पूरे महीने में कुल 17 दिन शीतलहर का प्रकोप रहा था। 1901 से 2018 तक सिर्फ चार मौकों पर दिसंबर का अधिकतम औसत तापमान 20 डिग्री से नीचे गया है। इस साल यह 26 दिसंबर तक 19.85 डिग्री है, जबकि 31 दिसंबर तक यह महज 19.15 डिग्री ही रह सकता है। शीत लहर का यह प्रकोप अभी 30 दिसंबर तक बना रहेगा।

यातायात प्रभावित
ठंड का असर यातायात पर भी पड़ रहा है। ट्रेन लेट हैं और फ्लाइट्स का रूट डायवर्ट किया गया। अब तक की जानकारी के मुताबिक, दिल्ली एयरपोर्ट पर कम दृश्यता के कारण चार उड़ानों की दिशा बदली जा चुकी है। वहीं, देशभर में 194 ट्रेनें देरी से चल रही हैं जबकि 71 ट्रेनों के रूट डायवर्ट करने पड़े हैं। कोहरे की वजह से ही 11 ट्रेनों का समय बदला गया था।

ANI@ANI

Delhi: 24 trains are also running late due to low visibility https://twitter.com/ANI/status/1210765887906537472 …ANI@ANIFour flights have been diverted till now at Delhi airport due to low visibility. At present, flights operating under CAT III-B(instrument landing system) conditions at the Delhi airport.9210:17 AM – Dec 28, 2019Twitter Ads info and privacySee ANI’s other Tweets
सेहत पर असर
बढ़ती सर्दी बच्चों को भी रुलाने लगी है। यूपी के सरकारी अस्पतालों के आंकड़ों के मुताबिक, राजधानी लखनऊ में सर्दी की चपेट में आने से रोजाना 500 बच्चे अस्पताल पहुंच रहे हैं। यही नहीं, निमोनिया और कोल्ड डायरिया से जूझ रहे करीब 50 बच्चे रोज भर्ती भी किए जा रहे हैं। केजीएमयू में तो हालत यह है कि यहां एक बेड पर दो-दो बच्चों का इलाज चल रहा है।

अभी छुटकारा नहीं
भारतीय मौसम विभाग ने शुक्रवार को कहा कि पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, उत्तरी राजस्थान और उत्तर प्रदेश में अगले दो दिनों तक बहुत ज्यादा ठंड रहेगी। उसके दो दिनों बाद यानी 30 दिसंबर से कुछ इलाकों में ठंड घट सकती है। अगले तीन दिनों तक इन इलाकों में घना कोहरा रहने की भी संभावना है। मध्य प्रदेश, बिहार, झारखंड, सिक्किम और ओडिशा भी अगले दो दिनों तक घने कोहरे की चपेट में रह सकते हैं जबकि 30 दिसंबर के बाद अगले 4-5 दिनों तक उत्तर-पूर्वी भारत के कुछ क्षेत्रों में घना कोहरा छा सकता है।

मौसम विभाग के पूर्वानुमान में बताया गया है कि पूरे हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, उत्तरी राजस्थान, बिहार के साथ-साथ पंजाब, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, ओडिशा, प. बंगाल और सिक्किम के कुछ क्षेत्रों में अगले दो दिनों तक हाड़ कंपाने वाली ठंड रहेगी। वहीं, 31 दिसंबर से 1 जनवरी तक पूरे उत्तर पूर्वी और मध्य भारत में बारिश के साथ ओले गिरने की संभावना है। पूर्वी भारत में यह ठंड एक दिन और ज्यादा यानी 2 जनवरी तक रहने की संभावना है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here