Solan News : डाॅ. शांडिल ने नालागढ़ उपमण्डल में जाना आपदा प्रभावितों का दुःख

    0
    4
    solan-Disaster-affected-himachalpradesh-tatkalsamachar
    Dr. Shandil learned about the plight of disaster affected people in Nalagarh sub-division.

    स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता तथा श्रम एवं रोज़गार मंत्री कर्नल डाॅ. धनीराम शांडिल ने कहा कि प्रदेश सरकार भारी वर्षा एवं भूस्खलन #landslide के कारण आपदा ग्रस्त प्रभावितों के उचित पुनर्वास एवं सुरक्षा के लिए दृढ़ संकल्प होकर कार्य कर रही है।

    डाॅ. शांडिल ने आज सोलन ज़िला के नालागढ़ उपमण्डल की ग्राम पंचायत पंजेहरा के घनीरी, ग्राम पंचायत कोइडी तथा ग्राम पंचायत रामशहर के मंजेहड़ में भारी वर्षा के कारण हुए नुकसान का जायज़ा लिया और प्रभावितों को आश्वस्त किया कि प्रदेश सरकार उनकी यथा सम्भव सहायता करेगी।


    डाॅ. शांडिल ने कहा कि वह भारी वर्षा के कारण हुए नुकसान का स्वयं जायज़ा ले रहे हैं और यह सुनिश्चित बना रहे है कि प्रभावितों को उचित राहत एवं पुनर्वास के साथ-साथ सहारा मिले। उन्होंने सोलन ज़िला के विभिन्न क्षेत्रों में पहंुचकर नुकसान की वास्तविकता जानी है और ज़िला प्रशासन को निर्देश दिए है कि प्रदेश सरकार के निर्णय अनुरूप कहीं भी राहत एवं पुनर्वास में कमी न रहे।


    स्वास्थ्य मंत्री ने नालागढ़ उपमण्डल की ग्राम पंचायत बाहा के गांव घनीरी में राहत शिविर में रह रहे वर्षा से प्रभावित लोगों से मुलाकात की। उन्होंने प्रभावितों को प्रदान की जा रही सुविधाओं का जायज़ा लिया तथा 25 परिवारों को राशन किटें वितरित की।


    उन्होंने तदोपरांत ग्राम पंचायत कोइडी के गांव कुमारहट्टी में रामशहर-मितियां मार्ग पर भूस्खलन का निरीक्षण किया। उन्होंने सम्बन्धित अधिकारियों को मार्ग की शीघ्र समुचित मुरम्मत करने के लिए उचित निर्देश दिए। https://www.tatkalsamachar.com/mandi-news/ उन्होंने ग्राम पंचायत कोइडी के गुरूकुण्ड गांव के गुरुद्वारे में रह रहे खलेड गांव के 20 प्रभावित परिवारों से भेंट कर उनका कुशलक्षेम जाना।

    उन्होंने प्रभावितों को आश्वास्त किया कि संकट की इस घड़ी में प्रदेश सरकार उनके साथ है तथा प्रत्येक प्रभावित का उचित पुनर्वास प्रदेश सरकार की प्राथमिकता है। डाॅ. शांडिल ने ग्राम पंचायत रामशहर के गांव मंजेहड़ का निरीक्षण कर ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि शीघ्र ही सभी प्रभावितों को प्रदेश सरकार द्वारा बढ़ाई गई राशि प्रदान की जाएगी।


    उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार यह सुनिश्चित बनाएगी कि प्रभावितों का पुनर्वास सुरक्षित स्थान पर हो। उन्होंने कहा कि पुनर्वास के लिए चिन्हित भूमि का भू-वैज्ञानिकों के माध्यम से सर्वेक्षण करवाया जाएगा ताकि भविष्य में किसी को परेशानी का सामना न करना पड़े।
    इस अवसर पर उन्होंने ग्राम पंचायत रामशहर के सामुदायिक केन्द्र में जन समस्याएं सुनी और इनके शीघ्र निपटारे के निर्देश दिए।
    डाॅ. शांडिल ने इसके उपरांत क्षतिग्रसत सुनानी गांव का जायज़ा लिया https://youtu.be/-8vyHkYaDtE?si=sf7SMo1a9P8VNAGa और शीघ्र पुनर्वास एवं राहत के निर्देश दिए।


    इस अवसर पर नालागढ़ के विधायक के.एल. ठाकुर, प्रदेश कांग्रेस समिति के महासचिव हरदीप बाबा, ग्राम पंचायत बाहा की प्रधान रिशमा देवी, ग्राम पंचायत रामशहर की प्रधान कृष्णा शर्मा, ग्राम पंचायत कोइडी की प्रधान गंगो देवी, ग्राम पंचायत कोइडी की उप प्रधान कृष्णा देवी, ग्राम पंचायत बाहा के उप प्रधान हीरा लाल, ग्राम पंचायत कोइडी के वार्ड पंच कृष्ण कुमार, उपमण्डलाधिकारी नालागढ़ दिव्यांशु सिंगल, वन मण्डालाधिकारी नालागढ़ एच.के. गुप्ता, तहसीलदार निशा आज़ाद, खण्ड चिकित्सा अधिकारी नालागढ़ डाॅ. मुक्ता रस्तोगी सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी एवं स्थानीय ग्रामवासी उपस्थित थे।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here